Home मध्य प्रदेश जबलपुर राज्य स्तरीय युवा महोत्सव: दूसरे दिन साहित्यिक प्रतियोगिता व लोकनृत्यों ने बिखेरा...

राज्य स्तरीय युवा महोत्सव: दूसरे दिन साहित्यिक प्रतियोगिता व लोकनृत्यों ने बिखेरा जादू

159
0

रानीदुर्गावती विश्वविद्यालय में चल रहे राज्य स्तरीय युवा महोत्सव 2018-19 के दूसरे दिन साहित्यिक प्रतियोगिता व लोकनृत्यों ने अपना जादू बिखेरा। प्रदेश के विविध विश्वविद्यालय से आये छात्र-छात्राओं ने अपने हुनर से सभी को तालियां बजाने पर मजबूर किया। नाटक हो या फिर पारम्परिक लोकनृत्य की प्रतिस्पर्धा, प्रत्येक प्रस्तुति ने अपने कला व कौशल से दर्शकों का समा बांधा। गुरुवार को ‘‘राज्य स्तरीय युवा महोत्सव’’ 2018-19 के द्वितीय दिवस प्रातः 11.00 बजे से एमबीए प्रेक्षागृह में नाटक प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। जहाँ डॉ. सपना चौहान के संयोजन एवं डॉ. नुपूर देशकर, डॉ. अर्चना सिंघल के निर्देशन में आयोजित नाटक स्पर्धा में विद्यार्थियों ने समय सामयिक विषयों से लेकर जागरूकतापूर्ण संदेश वाले विषयों पर अपनी भावपूर्ण प्रस्तुती दी।

छात्रों ने दिखाया अपना बौद्धिक कोशल

युवा महोत्सव के द्वितीय दिवस विवि के एमबीए विभाग के कांफ्रेंस हॉल में प्रातः वाद-विवाद व भाषण प्रतियोगिताओं का आयोजन हुआ जिसमें छात्र-छात्राओं ने अपने बौद्धिक कौशल का हुनर दिखाया। इसके बाद प्रश्नमंच प्रतियोगिता में विद्यार्थियों ने योग्यता का वास्तविक प्रदर्शन किया।

लोकनृत्यों का बिखरा जादू

युवा महोत्सव के द्वितीय दिवस पर पं. कुंजीलाल दुबे प्रेक्षागृह में एकल नृत्य, समूह लोक नृत्य का आयोजन डॉ. प्रीति डोंगरे, डॉ. मन्जू मरियम सालोमन, डॉ. दीप्ति पाण्डे की मौजूदगी में किया गया। जिसमे पारम्परिक लोकनृत्यों में छात्र-छात्राओं ने अपनी कला का बेहतरीन जादू बिखेरा। साथ ही समूह नृत्यों में बरेदी लोकनृत्य, उत्तरप्रदेश का लोकनृत्य होली, पूर्वांचल के लोकनृत्य लांगुरिया नृत्य, मालवा का बधाई नृत्य, राजस्थान का चिरमी नृत्य, छत्तीसगढ़ का कर्मा लोकनृत्य एवं ढिमरिया आदि लोकनृत्यों की कलात्मक प्रस्तुति देखने को मिली।