Home मध्य प्रदेश जबलपुर Jabalpur: विश्व रंगमंच दिवस पर “इलहाम” करेगी ‘आधी रात के बाद’ नाटक...

Jabalpur: विश्व रंगमंच दिवस पर “इलहाम” करेगी ‘आधी रात के बाद’ नाटक का मंचन

223
0

शहर की नाट्य संस्था ‘इलहाम आर्टिस्टिक असोसीएशन’ 27 मार्च को विश्व रंगमंच दिवस के अवसर पर नाटक ‘आधी रात के बाद’ का मंचन रानी दुर्गावती संग्रहालय की कलावीथिका में करेगी। मंचन सायं 7 बजे से आरंभ होगा। यह नाटक एक चोर के आधी रात को एक जज के घर घुस आने से शुरू होता है, नाटक सामाजिक कुव्यवस्थाओं, ऊँच नीच, अमीरों द्वारा गरीबों का शोषण, भ्रष्टाचार जैसे गंभीर विषयों पर आधारित है। नाटक को शंकर शेष ने लिखा हैं एवं यह आयुष राय के निर्देशन में इलहाम के कलाकारों द्वारा प्रस्तुत किया जाएगा।

नाटक की कहानी:-

कहानी एक दिलचस्प और खुशमिजाज चोर के आधी रात को जज के घर घुस आने से शुरू होती है| जब जज का सामना चोर से होता है तो चोर एक के बाद एक दिलचस्प किस्से सुनाना शुरू करता है| इन किस्सों से ही चोर समाज की कुव्यवस्थाओं पर, भ्रष्टाचार पर, उच्चवर्गों के निम्न वर्गों पर अत्याचार पर, प्रहार करता हुआ परत दर परत सवालों के जवाब ढूंढता हुआ नाटक को आगे बढाता है, इसी दौरान जज चोर के सवालों को सुनकर उसके व्यक्तित्व से प्रभावित होकर अंत तक उसके किस्सों को सुनता है, और उसके सवालों के जवाब देता है। नाटक के अंत में जज को ज्ञात होता है की चोर का उनके घर घुसने का असली मकसद चोरी करना नहीं बल्कि कुछ और ही था,
अब क्या था वह असली मकसद? इसके लिए इलहाम असोसिएशन के सारे सदस्यो द्वारा 27 मार्च विश्व रंगमंच दिवस के अवसर पर नाटक में उपस्तिथि की अपील की है।