Home धर्म और ज्योतिष जबलपुर:”गर्भगृह से निकलकर भक्तो को दर्शन देंगे हनुमान”, धूमधाम से मनाया जाएगा...

जबलपुर:”गर्भगृह से निकलकर भक्तो को दर्शन देंगे हनुमान”, धूमधाम से मनाया जाएगा रामलला भक्त का प्राकट्यत्सव, होंगे भव्य आयोजन

158
0

कोई चढ़ाएगा मेवा… कोई मांगेगा मुराद… लगेगी भक्तो की कतार…! रामलला भक्त हनुमानजी का प्राकट्य उत्सव आज बड़े ही धूमधाम के साथ संस्कारधानी में मनाया जाएगा। शहर में कई सारे भगवान हनुमानजी के प्राचीन मंदिर है जहाँ भक्तो का तांता दिखाई देगा, भक्तगण अपनी-अपनी मनोकामनाएं लेकर कष्टनिवारक, कष्टों को हरने वाले, बुद्धि देने वाले बजरंगबली के दर्शन को पहुचेंगे। गौरतलब है कि, हनुमानजी महाराज का जन्मोत्सव चैत्र माह की पूर्णिमा को मनाया जाता है, कहा जाता है कि इस दिन भगवान हनुमानजी का जन्म हुआ था, इसी के चलते चैत्र माह की शुक्ल पक्ष में 15वे दिन भगवान का जन्मोत्सव बड़े ही धूमधाम के साथ मनाया जाता है

हमारी संस्कारधानी में कई सारी ऐसे प्राचीन मंदिर है जहाँ भगवान हनुमानजी के पास भक्त अपनी मुरादे लेकर पहुँचते है और उनकी सारी मुरादे पूरी होती है। ग्वारीघाट स्तिथ श्री सिद्ध रामलला मन्दिर में ऐसी मान्यता है कि भक्तो की जो भी मन्नोति होती है वह भक्तगण मन्दिर में एक नारियल व पर्ची के साथ यहां लगाते है इन्हें अर्जी वाले हनुमानजी जी के नाम से भी जाना जाता है जो कि सन 1971 से यह विधिवत है। सूपाताल स्थित भगवान का प्राचीन मन्दिर अखंड मानस यज्ञ जो रामायण मन्दिर के नाम से भी जाना जाता है करीब 50 वर्षो से मंदिर मे अखंड रामायण चलती आ रही है जहाँ भक्तो की मुरादे पूरी होती है। ऐसे ही शहर में प्राचीन मंदिर आधारताल, सराफा स्तिथ बड़े महावीर, रानीताल गेट न 2 और रानीताल चौराहा, गढ़ा स्तिथ श्री सकंट मोचन मन्दिर जहाँ बरसो से भक्तों की मुरादे पूरी होने के साथ मंदिरों की अपनी-अपनी मान्यता है। युग की गर्भ से निकलेगे बाल हनुमान।

पाषाण युग की गर्भ से निकलेगे बाल हनुमान

ग्वारीघाट स्तिथ श्री सिद्धपीठ रामलला मंदिर में साल में गुरू परम्परा से मिली पाषाण युग की बाल बजरंग हनुमान प्रतिमा का दर्शन हनुमान जन्मोत्सव पर कराया जाता है। रामलला मन्दिर के पंडित आचार्य ने बताया कि भगवान बाल हनुमान जो कि गर्भ गृह से निकाले जायँगे जिनका पूजन अभिषेक प्रातः 4 बजे से किया जाएगा। सुबह 4 बजे से रात्रि 1 बजे तक महाआरती की जायेगी व स्त्री और पुरुष अपने हाथों से बाल बजरंग को स्पर्श कर पूजन अर्चन कर पाएंगे। उन्होंने बताया कि वेदिक मंत्रोच्चार के साथ व गाजे बाजे के साथ गर्भगृह से प्रतिमा निकाली जाएगी। साथ ही 1.25 लाख नारियल का हवन किया जाएगा।

स्वयं सिद्ध हनुमान मन्दिर में दो दिवसीय भव्य आयोजन –

रानीताल गेट न 2 स्तिथ स्वयं सिद्ध हनुमान मन्दिर में आज भगवान हनुमानजी महाराज जन्मोत्सव बड़े ही धूमधाम से मनाया जाएगा। मंदिर के पुजारी ने बताया कि हनुमान जन्मोत्सव पर 2 दिवसीय भव्य सांस्कृतिक व धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया है। उन्होंने बताया कि भगवान की सुबह 4 बजे भगवान का जन्म व पूजन प्रारम्भ व 6 बजे संगीतमय जन्म महाआरती। 6:30 बजे से सामूहिक सुदंर कांड पाठ राष्ट्रीय कलाकार व सारेगामापा विनर इशिता विश्वकर्मा, माँ तेजल विश्वकर्मा आदि के साथ प्रस्तुति दी जायेगी। इसके अलावा 9 बजे से नेत्रहीन कन्या विद्यालय की छात्राओं द्वारा भजनों की प्रस्तुति व सामूहिक कन्या भोज। 11 बजे से अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त श्याम बैंड की प्रस्तुति। शाम 4 बजे से शहर के कलाकार दिलीप कोरी द्वारा भजनों की प्रस्तुति। शाम 8 बजे इशिता विश्वकर्मा द्वारा मनमोहक भजनों की प्रस्तुति दी जाएगी। इसके साथ ही दिल्ली, यूपी बिहार, छत्तीसगढ़ के कलाकारों द्वारा भी प्रस्तुतियां दी जाएंगी।

सप्तदिवसीय हनुमान जन्मोत्सव

गढ़ा स्तिथ श्री संकट मोचन हनुमान मंदिर में सप्तदिवसीय हनुमान जन्मोत्सव का आयोजन 13 से 19 अप्रैल तक किया जा रहा है। आज प्रातः 4 बजे से 8 बजे तक भगवान का रुद्राभिषेक किया जाएगा। 8 से 10 सामूहिक सुंदरकांड पाठ, 4 बजे से विशाल भंडारा एवं सांय 7 बजे से महाआरती की जायेगी।