Home मध्य प्रदेश जबलपुर सपनो को मिले पंख, कोई बनना चाहता है इंजीनियर तो कोई करना...

सपनो को मिले पंख, कोई बनना चाहता है इंजीनियर तो कोई करना चाहता है देश सेवा, कक्षा 10वी 12वी में जिले के छात्रों का उत्कृष्ट प्रदर्शन

177
0

जबलपुर। बुधवार को मध्य प्रदेश बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (MPBSE) ने एक साथ 10वीं और 12वीं कक्षा के परीक्षा परिणाम जारी किये। परीक्षा परिणाम की घोषणा मॉडल स्कूल टीटी नगर ऑडिटोरियम में मुख्य सचिव एसआर मोहंती ने की। 10वीं के साथ 12वीं परीक्षा का रिजल्ट भी जारी किया गया है। MPBSE द्वारा परीक्षा परिणाम को बोर्ड ने अपनी आधिकारिक वेबसाइटwww.mpbse.nic in, www.mpresults.nic.inपर जारी कर दिए हैं। सभी छात्र जो परीक्षा में उपस्थित हुए हैं वे अब ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर परिणाम को डाउनलोड कर सकते है।

बुधवार को जारी हुए 10वी व 12वी कक्षा के परिणाम में जबलपुर जिले में 12वी का प्रतिशत 66.37 प्रतिशत रहा तो वही 10वीं कक्षा का परीक्षा परिणाम 54.16 प्रतिशत रहा। हालांकि इस बार भी छात्रों के मुकाबले छात्राओ ने बाजी मारी। बता दे कि जिले के छात्र – छात्रों ने दोनों ही परीक्षा में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर अपने सपनो को पंख दिए है और अब वे नए रास्ते की ओर अपने कदम बढ़ाएंगे। बुधवार को परीक्षा परिणाम जारी होने के बाद छात्र – छात्राओं व अभिभावकों ने fourthpiller.com से अपने परीक्षा परिणाम व महत्वपूर्ण जानकारी शेयर की। कोई सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहता है तो कोई देश की सेवा करना चाहता है तो कोई क्रिकेटर बनने की चाह रखता है आइये आपको बताते है जबलपुर जिले के बच्चो का परिणाम व आगे की सोच –

सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहती है संस्कृति शर्मा

विस्डम पब्लिक स्कूल की छात्रा मदन महल आमनपुर निवासी संस्कृति शर्मा ने कक्षा 10वी में उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए 500 में से कुल 470 अंक हासिल किए और उनका परीक्षा परिणाम 94% रहा। संस्कृति ने बताया कि वे आगे सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहती है और अपने माता गीता शर्मा व पिता प्रदीप शर्मा का नाम रोशन करना चाहती है।

गवर्मेंट ऑफिसर बनना चाहते है रितिक

गोलबाजार महाराष्ट्र स्कूल के छात्र रितिक साहू ने कक्षा 12वी में 500 में से कुल अंक 387 हासिल किए। रितिक का।परीक्षा परिणाम 77.4% रहा। रितिक ने बताया कि वे आगे गवर्मेंट ऑफिसर बनना चाहते है जिसकी तैयारी वे अब करेंगें। उन्होंने अपनी सफ़लता का श्रेय पिता सुरेश साहू व माता छाया साहू को दिया।

अक्षत बनना चाहते है इंजीनियर

नचिकेता स्कूल के छात्र अक्षत सोनी ने कक्षा 10 वी की परीक्षा में 500 में से कुल अंक 439 हासिल किए। और उनका परीक्षा परिणाम 88% रहा । अक्षत ने बताया कि वे आगे सॉफ्टवेयर इंजीनियर की पढ़ाई करेंगे। इंजीनियर बनना उनका सपना है।

पारस बनना चाहते हैं कम्प्यूटर इंजीनियर

नाम:- पारस वैष्णव
माता:- आरती वैष्णव
पिता:- रविन्द्र वैष्णव
स्कूल:- स्प्रिंग डे हायर सेकेण्ड्री स्कूल।
कक्षा:- 12वीं, कुल अंक:-500/375, प्रतिशत:- 75.7 प्रतिशत।
सपना:- कम्प्यूटर इंजीनियर।
पिता का काम:- प्राईवेट काम।

क्रिकेटर बनकर गीता करना चाहती हैं नाम ऊंचा

नाम:- गीता काछी
माता:- रूकमणि काछी
पिता:- शंभू प्रसाद काछी
स्कूल:- एमएलबी स्कू ल।
कक्षा:-12वीं, कुल अंक:- 500/291, प्रतिशत:- 58.2 प्रतिशत।
सपना:- क्रिकेटर बनने का सपना।
पिता:- मजदूरी करते हैं।

शशांक बनना चाहते हैं इंजीनियर

नाम:- शशांक विश्वकर्मा
माता:- कुसुम विश्वकर्मा
पिता:- राकेश विश्वकर्मा
स्कूल:- नचिकेता स्कूल।
कक्षा:-12वीं, कुल अंक:- 500/434, प्रतिशत:-86.80 प्रतिशत।
सपना:- इंजीनियर बनना है।
पिता का काम:- प्राईवेट जॉब।

कक्षा 10वीं में उत्तीर्ण हुए विद्यार्थियों की जानकारी

इंजीनियर बनकर देश की करना चाहती हैं सेवा

नाम:- ईशा विश्वकर्मा
माता:- कुसुम विश्वकर्मा
पिता:- राकेश विश्वकर्मा
स्कूल:- नचिकेता स्कूल नेपियर टॉउन
कक्षा:-10वीं, कुल अंक:- 500/476, प्रतिशत:-95.20 प्रतिशत
सपना:- इंजीनियर बनना है।
पिता का काम:- प्राईवेट जॉब।

श्रुति बनना चाहती है आईएएस अधिकारी

नाम:- श्रुति श्रीवास्तव
माता:- डॉ संगीता वर्मा
पिता:- प्रो संजय वर्मा
स्कूल:- सेंट एलॉयसीयस सदर
कक्षा:- 10 वीं, कुल अंक:- 500/458, प्रतिशत:-92 प्रतिशत
सपना:- आईएएस अधिकारी।
माता-पिता:- शिक्षक