Home मध्य प्रदेश इंदौर Loksabha Election : मध्यप्रदेश में फिर खिला ‘कमल’, अपना ही रिकॉर्ड तोड़ते...

Loksabha Election : मध्यप्रदेश में फिर खिला ‘कमल’, अपना ही रिकॉर्ड तोड़ते हुए कांग्रेस को 28-1 से दी मात

215
0

17वी लोकसभा चुनाव के लिए 23 मई गुरुवार सुबह 8 बजे से मतगणना शुरू हुई तो सारे देश भर को सिर्फ नतीजों का इंतज़ार था, और शाम तक जब नतीजे जारी हुए तो भारतीय जनता पार्टी एक तरफा जीत हासिल करते हुए एक नये रिकॉर्ड की ओर अग्रसर हुई। 2014 के मुकाबले भाजपा ने 2019 में सीट और जीत का नया रिकॉर्ड बनाया। अब बात करे मध्यप्रदेश की तो प्रदेश लोकसभा चुनाव में एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी ने खुद का ही रिकार्ड तोड़ दिया है। पिछले चुनाव में भाजपा ने जहा 27 सीटें जीती थीं, वही इस बार मप्र में भाजपा ने कांग्रेस को 28-1 से पराजित कर दिया।

प्रदेश की वीआईपी सीट कहे या कांग्रेस का गढ़ कही जाने वाली गुना की सीट सिंधिया राजघराने के महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया भाजपा के नए चेहरे केपी यादव से सवा लाख (1,24,579) वोटों से हार गए। वही भोपाल लोकसभा सीट से कांग्रेस के सबसे कद्दावर नेता पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को भाजपा की साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने 3,37,112 वोटों से हरा दिया। वही जबलपुर की बात करे तो कांग्रेस के विधि प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय संयोजक विवेक तन्खा को जबलपुर सीट से भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने पिछले चुनाव का अपना ही रिकॉर्ड तोड़ते हुए साढ़े चार लाख से ज्यादा वोट से हराया।

इसके अलावा अनुसूचित जाति-जनजाति की भी सभी दस सीटों पर भाजपा प्रत्याशियों ने जीत हासिल की। आदिवासी नेता कांतिलाल भूरिया को भाजपा के जीएस डामोर ने लगभग एक लाख (91,891) वोटों से हराया। वही मप्र विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री अरूण यादव, वरिष्ठ नेता रामनिवास रावत जैसे नेताओं को मोदी सूनामी के सामने लाखों वोटों के अंतर से पराजित होना पड़ा। मध्यप्रदेश में सबसे बड़ी जीत होशंगाबाद के राव उदय प्रताप सिंह के सिर बंधा, उन्होंने कांग्रेस के शैलेंद्र दीवान को हराया।

वहीं दूसरी बड़ी जीत इंदौर के शंकर लालवानी को मिली, उन्होंने कांग्रेस के पंकज संघवी को साढ़े पांच लाख (5,47 754) वोटों से हराया। प्रदेश में कांग्रेस की 1 सीट की जीत मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ की रही, उन्होंने भाजपा के आदिवासी प्रत्याशी नत्थन शाह कवरेती को 37,536 वोटों से पराजित किया।

सीट / उम्मीदवार / प्रतिद्वंद्वी / जीत का अंतर