Home मध्य प्रदेश जबलपुर विस्थापितों से मिले नवागत कलेक्टर, कहा समस्याओं के बारे में सीधे जानकारी...

विस्थापितों से मिले नवागत कलेक्टर, कहा समस्याओं के बारे में सीधे जानकारी दें, अधिकारियों को तत्काल निराकरण के दिए निर्देश

160
0

जबलपुर। जिले के नवागत कलेक्टर भरत यादव ने शुक्रवार को तिलहरी स्थित मदन महल पहाड़ी के विस्थापितों की बस्ती का निरीक्षण किया और यहां चल रहे विकास कार्यों एवं उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं की जानकारी ली। कलेक्टर यादव ने इस मौके पर विस्थापितों से सीधे संवाद किया और उनकी समस्याओं की जानकारी लेकर उन्होंने अधिकारियों को विस्थापितों की कठिनाईयों का तत्काल निराकरण के निर्देश दिये। कलेक्टर ने सभी विस्थापितों से कहा कि बारिश के पूर्व यहाँ सड़क और नाली निर्माण का कार्य पूरा कराया जाएगा ताकि बारिश में किसी भी प्रकार की परेशानी न हो। इस दौरान उन्होंने नगर निगम और विद्युत विभाग के अधिकारियों को विस्थापितों के पुनर्वास स्थल पर पर्याप्त संख्या में बिजली के खम्बे और स्ट्रीट लाइट लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी से आग्रह किया कि वे अपनी समस्याओं के बारे में सीधे उन्हें जानकारी दें

कलेक्टर ने पानी की पर्याप्त आपूर्ति की विस्थापितो की मांग पर निगम अधिकारियों को नल कनेक्शन की संख्या बढ़ाने तथा अतिरिक्त नलकूप का खनन कर फेज टू में पाइप लाइन से जल आपूर्ति की व्यवस्था सुनिश्चित करने कहा। श्री यादव ने विस्थापितों से प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मिली पहली किश्त की राशि से घर का निर्माण शीघ्र प्रारम्भ करने का अनुरोध भी किया। उन्होंने बताया कि जिन विस्थापितों को पट्टे प्रदान कर दिए गए हैं उनके बैंक खाते में मकान बनाने के लिए पहली किश्त की राशि नगर निगम द्वारा डाल दी गई हैउन्होंने मदनमहल पहाड़ी के शेष विस्थापितों को भी तिलहरी में भूखण्ड के पट्टे शीघ्र प्रदान की बात कही, पट्टों का वितरण उन्ही विस्थापितों को किया जाएगा जो वास्तविक रूप से इसके हकदार होंगें।

चिकित्सकों की नियमित उपस्थिति सुनिश्चित करने की दी हिदायत

कलेक्टर भरत यादव ने विस्थापितों के आधार कार्ड, गरीबी रेखा का कार्ड, बच्चों को स्कूल और कॉलेज में प्रवेश तथा सामाजिक सुरक्षा पेंशन स्वीकृत करने के लिए पुनर्वास स्थल पर ही शिविरों के आयोजन के निर्देश अधिकारियों को दिये, उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को पुनर्वास स्थल पर चिकित्सकों की नियमित उपस्थिति सुनिश्चित करने की भी हिदायत दी। उन्होंने विस्थापितों को बताया कि उनके बच्चों की पढ़ाई-लिखाई के लिए नया शिक्षण सत्र प्रारंभ होते ही पुनर्वास स्थल पर अस्थाई स्कूल प्रारंभ कर दिया जायेगा। इसके साथ ही उन्होंने पुनर्वास स्थल पर सामुदायिक भवन, आंगनबाड़ी केन्द्र और शाला भवन के निर्माण की दिशा में अभी तक की प्रगति की जानकारी संबंधित अधिकारियों से ली।
निरीक्षण के दौरान कलेक्टर के साथ नगर निगम आयुक्त चन्द्रमौलि शुक्ला, अपर कलेक्टर सलोनी सिडाना, अपर आयुक्त नगर निगम जी.एस. नागेश तथा विद्युत, स्वास्थ्य, शिक्षा एवं अन्य विभागों के अधिकारी भी मौजूद थे।